Alone Status in Hindi

Alone Status in Hindi

Alone Status in Hindi
Alone Status in Hindi

Alone Status in Hindi

“सुनो बहुत इंतजार करता हूँ तुम्हारा, सिर्फ एक कदम बढा दो बाकी के फासले मै खुद तय कर लूँगा.”

“क़ाफ़िले में पीछे हूँ कुछ मसलेहत हे वरना मेरी ख़ाक़ भी ना पाते मेरे साथ चलने वाले |”

“तू तो मेरी जान है फ़िर क्यूँ?? तेरी ही याद मेरी जान ले रही है ?”

“तेरी यादों की दुनिया में बहुत महफूज रहते हैं, जहां न कुछ खोने का डर है न अब कुछ पाने की तमन्ना”

“धोखा देती है अक्सर मासूम चेहरे की चमक, हर काँच के टुकड़े को हीरा नहीं कहते |”

“एक बात पूछूं जवाब मुस्कुरा के देना ,मुझे रुला कर तुम खुश तो होना ?”

“तन्हाई में अक्सर इस बात का दुःख होता है, मुझे सब याद आते है मैं किसी को याद नहीं ।”

“मोत से तो दुनिया मरती हैं, आशीक तो बस प्यार से ही मर जाता हैं |”

“यकीन करो मेरा ,लाख कोशिशें कर चुका हूँ मैं ना सीने की धड़कन रुकती है, ना तुम्हारी याद !”

“ख़ुदा भी अब किस- किसकी, फ़रियाद सुने किसी का कल खोया है तो, किसी का आज नही है |”

“चली आती है तेरी याद मेरे जहन में अक्सर, तुझे हो ना हो तेरी यादों को जरूर मुझसे मोहब्बत है ”

“दरिया” बन कर किसी को डुबाना बहुत आसान है. मगर “जरिया” बनकर किसी को बचायें तो कोई बात बनें !”

“वो भी बहुत अकेला है मेरी तरह शायद उस को भी नहीं मिला कोई ‘;चाहने वाला”

“नए लोग से आज कुछ तो सीखा हे, पहले अपने जैसा बनाते हे फिर अकेला छोड़ देते है.”

“किस बात का बदला लिया है तुम ने मुझे अपना बना के इस तरह तनहा छोड़ा है, की मैं अपना भी न बन सका |”

“कुछ नहीं है आज मेरे शब्दों के गुलदस्ते में, कभी कभी मेरी खामोशियाँ भी पढ लिया करो.”

“मैं खुल के हँस तो रहा हूँ फ़क़ीर होते हुए, वो मुस्कुरा भी न पाया अमीर होते हुये.”

“सबके कर्ज़े चुका दूं मरने से पहले, ऐसी मेरी नियतं हैं, मौंत से पहले तूं भी बता दे ज़िन्दगी, तेरी क्या किंमत हैं.”

“हिंदी भी अजीब भाषा है – घडी बिगड़ जाये तो कहते है – बंद है और लड़की बिगड़ जाये तो कहते है – चालू है.”

“मोहब्बत ज़िंदगी बदल देती है, मिल जाए तो भी ना मिले तो भी…”

“तोड़ कर देख लिया आईना-ए-दिल तूने; तेरी सूरत के सिवा और बता क्या निकला।”

“नहीं मिलेगा तुझे कोई हम सा, जा इजाजत है ज़माना आजमा ले!”

“ऐ दिल थोड़ी सी हिम्मत कर ना यार, दोनों मिल कर उसे भूल जाते है…”

See Also :

Leave a Comment